BHARAT DOGRA

An Author and Journalist Writing on Development, Environment, Human Rights and Society

Published Hindi Articles in 2013

  1. एकल महिला संगठन अब अकेली नहीं हैं ये महिलाएं - नेशनल दुनिया, 2.1.13
  2. जलवायु बदलाव पर उचित पहल का इंतजार - अमर उजाला काम्पेक्ट, 1.1.13
  3. जरूरत पूंजीवाद के विकल्प की - सामयिक वार्ता, जनवरी
  4. दबंगों के दवाब से कैसे बचे पंचायत नेत्तृत्व? - पंचायतराज अपडेट, जनवरी
  5. नए साल में वैश्विक चुनौतियां - राष्ट्रीय सहारा, 2.1.13
  6. पुरानी चीजों को फैंकिए मत गूंज को दे दीजिए - शुक्रवार, 17 जनवरी 2013
  7. वाटरशैड परियोजनाओं का लाभ सबसे कमजोर वर्ग को मिले - सोपान स्टेप, जनवरी 2013
  8. मजदूरों की सामाजिक सुरक्षा संबंधी कानून - देशबंधु, 5.1.13
  9. धरती की जीवनदायिनी क्षमता का संवर्धन जरूरी - दैनिक ट्रिब्यून, 2.1.13
  10. कर्मकांडों में विवेकानन्द को मत बांधिए - हिन्दुस्तान 12.1.13
  11. धर्म का मूल आयोजन - राष्ट्रीय सहारा हस्तक्षेपद्, 12.1.13
  12. परमाणु बम पर बैठा पड़ौसी - अमर उजाला, 15.1.13
  13. जनसंगठनों की एकता का मतलब - नेशनल दुनिया, 16.1.13
  14. स्पष्ट हो आंदोलनों की दिशा और उद्देश्य - राष्ट्रीय सहारा, 21.1.13
  15. विवेकानंद जयंती कैसे मनाएं - सर्वोदय प्रेस सर्विस, जनवरी
  16. कब रुकेगा ठंड से मौत का सिलसिला - अमर उजाला कांपेक्ट, 24.1.13
  17. ग्रामीण शिक्षा - इन स्कूलों में सब होता है पढ़ाई के अलावा - हिन्दुस्तान 24 जनवरी
  18. यौन हिंसा पीड़ितों को मिली ‘दिशा’ - शुक्रवार, 31 जनवरी 2013
  19. सार्थक बहस में कुछ उपेक्षित सवाल - नेशनल दुनिया, 30.1.13
  20. अपफगानिस्तान - अनिश्चय और चिंता का कारण वाजिब - राष्ट्रीय सहारा, 31.1.13
  21. नए को बीते वर्ष का संदेश - लोकमत समाचार, 1 जनवरी
  22. बुंदेलखंड में लोक कला उत्सव - लोकमत समाचार
  23. संसदीय समितियों की कार्यविधि समझें - लोकमत समाचार, 5.1.13
  24. उपेक्षित न हो ग्राम सभा की महत्त्वपूर्ण भूमिका - पंचायत राज अपडेट, फरवरी
  25. ऐसे तो नहीं सुधर पाएगी शिक्षा व्यवस्था - हिंदुस्तान, 5 फरवरी
  26. महिला हिंसा के विरुद्ध जरूरी पहल - राष्ट्रीय सहारा, 12.2.13
  27. क्या सोच रहा है पाक का सैन्य नेतृत्व - देशबंधु, 4.2.13
  28. शराब के राजस्व में डूबी सरकारें बनाम यौन हिंसा - सर्वोदय फीचर्स, 15.2.13
  29. सरकार के बजट में वंचितों के हकों की रक्षा कैसे हो - विविधा फीचर्स, 12 फरवरी
  30. शराब से बढ़ती है महिलाओं के विरुद्ध हिंसा - विविधा फीचर्स, 12 फरवरी
  31. बजट में न हो कमजोर तबकों की अनदेखी - नई दुनिया, 13.2.13
  32. अमेरिका - देशबंधु, 13.2.13
  33. जनहित के कार्यों के लिए मिल सकता है धन - दैनिक जागरण
  34. बेबस दस्तकारों की कौन सुनेगा - अमर उजाला कॉम्पैक्ट, 13.2.13
  35. मनुष्य जनित कारणों से भी आ सकते हैं भूकंप - स्रोत फीचर्स
  36. सबसे कमजोर वर्गों को नई उम्मीद दे रहा मोर्चा - न्यूज लिंक, पफारवरी 2013
  37. पारदर्शिता मेलों में सच का सामना - शुक्रवार, 21 फरवरी
  38. पंचायत राज का सही मूल्यांकन जरूरी - राष्ट्रीय सहारा, 16.2.13
  39. शहरों को इस तरह बनाइए सुरक्षित - नेशलन दुनिया, 15.2.13
  40. पाक सेना की दबंगई - दैनिक जागरण, 16.2.13
  41. सूचना मिलने में देरी से निराशा - लोकमत समाचार
  42. जनहित की पटरी से न उतरे सुधारों की गाड़ी - नवभारत टाईम्स, 27.2.13
  43. हिंसा पीड़ित महिलाओं को न्याय देने की राह - हिन्दुस्तान, 20.2.13
  44. बजट व निर्धन वर्ग - देशबंधु, 18.2.13
  45. दूर है सबके लिए स्वास्थ्य का लक्ष्य - राष्ट्रीय सहारा, 25.2.13
  46. नैतिकता के नियम विकसित हों - लोकमत समाचार, 2.2.13
  47. जी एम पफसलों के पैरोकार ने मुंह की खाई - शुक्रवार, 7 मार्च 2013
  48. महिला-नेतृत्व ने पंचायतों को सशक्त किया - स्टैप सोपान, मार्च
  49. पंचायतों में दलित महिलाओं के साहसिक नेतृत्व से बदलाव की बयार - पंचायत राज अपडेट, मार्च
  50. चड्ढ़ा के सरपरस्तों की जांच जरूरी - आऊटलुक, मार्च 2013
  51. दिशाहीन सड़क - जनसत्ता, 4.3.13
  52. आशा का औपचारिकता में बदल जाना - हिन्दुस्तान, 5.3.13
  53. हथियार उद्योग पर नियंत्रण - राजस्थान पत्रिका, 5.3.13
  54. सबके लिए पेंशन की मुहिम का आगाज - राष्ट्रीय सहारा, 6.3.13
  55. सबको सामाजिक सुरक्षा के लिए आवाज बुलंद - नेशनल दुनिया, 6.3.13
  56. जारी है आदिवासियों का भूमि संघर्ष - विविधा फीचर्स, 12 मार्च
  57. दम तोड़ती नदी के लिए बचे हुए विकल्प - हिन्दुस्तान, 12.3.13
  58. बढ़ते दबाव में पिछड़ती एक योजना - अमर उजाला, 14.3.13
  59. कृषि मोर्चे पर भी काफी पीछे हैं हम - दैनिक जागरण, 13.3.13
  60. बजट को भूलिए मत, उस पर साल भर नजर रखिए - नवभारत टाइम्स, 13.3.13
  61. कहां खो रहा है परंपरागत ज्ञान - नई दुनिया, 16.3.13
  62. किसान कर्ज माफी की कड़वी सच्चाई - नेशनल दुनिया, 18.3.13
  63. आखिर कैसे होगी गंगा-यमुना की रक्षा - नवभारत टाईम्स, 21.3.13
  64. गरीबी दूर करने वित्तीय संसाधन जुटाएं - देशबंधु, 11.3.13
  65. पति की जोर-जबरदस्ती भी हो कानूनी दायरे में - राष्ट्रीय सहारा, 22 मार्च
  66. निराशा के दौर में उम्मीद की किरण - नेशनल दुनिया, 23.3.13
  67. बुंदेलखंड का विकास - अमर उजाला काम्पैक्ट
  68. जिंदा हैं भगत सिंह के विचार, दैनिक ट्रिब्यून, 23.3.13
  69. जीएम फसलों की शातिर दुनिया - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 29.3.13
  70. इन महत्वपूर्ण पर उपेक्षित कार्यों में देरी न करें - दून द्वार, 24.3.13
  71. निजीकरण की विनाशकारी डगर - दैनिक जागरण, 4.4.13
  72. बढ़ते दबाव में पिछड़ती एक योजना - अमर उजाला, 14.3.13
  73. ग्रामीण विकेंद्रीकरण व जलवायु बदलाव की चुनौतियां - पंचायत राज अपडेट, अप्रैल 2013
  74. मातृ मृत्यु दर कम करने का सार्थक प्रयास - सोपान स्टेप, अप्रैल
  75. समतावादी विकास की लौ - नई दुनिया, 10 अप्रैल
  76. जनहित की अनदेखी - नेशनल दुनिया, 12.4.13
  77. सामने आई चिंताजनक सच्चाई - राष्ट्रीय सहारा, 15.4.13
  78. व्यापक हो रहा है पेंशन आंदोलन - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  79. रात्रि शालाओं की आठवीं बाल ससंद के चुनाव सम्पन्न - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  80. दो पंचायतों की कहानी - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  81. रात्रिशालाओं ने निर्धन छात्रों को नए अवसर दिए - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  82. एक गांव से दुनिया में दूर-दूर पंहुच रहा सौर ऊर्जा का उजाला - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  83. गांवों में भी क्रेश जरूरी है - बेयरफुट कालेज समाचार, फरवरी 2013
  84. स्वास्थ्य के तथ्यों से पीछे न हटे सरकार - स्रोत फीचर्स, अप्रैल
  85. बढ़ते अपराधों में मीडिया की भूमिका - राष्ट्रीय सहारा, 24 अप्रैल
  86. आपफत के बीज - स्रोत फीचर्स
  87. पानी व बिजली का निजीकरण उचित नहीं - राष्ट्रीय सहारा, 8 अप्रैल
  88. खेती-किसानी की नई उम्मीद - दैनिक जागरण, 26 अप्रैल
  89. जैव विविधता की रक्षा कैसे हो - राजस्थान पत्रिका अप्रैल
  90. ऊर्जा नीति - उपभोगवादी जीवन शैली को नियंत्रित करना जरूरी - 25 अप्रैल
  91. सेना को भी अदालत जाना पड़ा - शुक्रवार, 2 मई
  92. ग्रामीण विकेंद्रीकरण को किसानों की आत्म-निर्भरता - पंचायत राज अपडेट, मई 2013
  93. विस्थापन को न्यूनतम करने की नीति चाहिए - विविधा फीचर्स
  94. पानी के प्रवाह से जुड़े हैं कई विवाद - हिंदुस्तान, 2.5.13
  95. अस्तित्व के संकट से जूझती नदियां - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 10.5.13
  96. किसानों व पर्यावरण के लिए वरदान है मंगल टरबाईन - सोपान स्टेप, मई 2013
  97. रेडियो की वापसी होगी - नवभारत टाईम्स, 3 मई
  98. जीएम बीजों की सच्चाई सामने आनी चाहिए - स्रोत फीचर्स
  99. मेवात में सद्भावना व एकता की परंपरा - न्यूज लिंक, मई
  100. वितरण की विषमता से बढ़ता जल संकट - नई दुनिया, 8 मई
  101. पिछड़े बांग्लादेश ने पाकिस्तान को पछाड़ा - हिंदुस्तान, 9 मई
  102. बेहतर सुरक्षा की दरकार - लोकमत समाचार, 9 मार्च
  103. जन-स्वास्थ्य सहयोग ने दिखाई समग्र ग्रामीण स्वास्थ्य की राह - देशबंधु, 16.5.13
  104. पोर्नोग्राफी - अरबों का वारा-न्यारा - राष्ट्रीय सहारा, 16.5.13
  105. इन सिसकियों को भी सुनिए - अमर उजाला, 17.5.13
  106. ग्रामीण स्वास्थ्य की बड़ी चुनौती - दैनिक जागरण, 17.5.13
  107. चकाचौंध छोड़ गरीबों की सेवा करने गांव पंहुचे डाक्टर - नवभारत टाईम्स, 17.5.13
  108. बच सकता है लाखों बच्चों का जीवन - राष्ट्रीय सहारा, 20.5.13
  109. पेंशन पर सोच में आया एक बड़ा बदलाव - हिन्दुस्तान, 22.5.13
  110. बीटी बैंगन के बाद जीएम केला - दैनिक जागरण, 24.5.13
  111. स्वास्थ्य नीति की बीमारी - जनसत्ता, 25.5.13
  112. हिंसा के विरुद्ध - जनसत्ता, रविवार, 26.5.13
  113. सच हो सबकी सेहत का सपना - राष्ट्रीय सहारा, 27.5.13
  114. दिहाड़ी मजदूरों के बच्चों की शिक्षा का सवाल - अमर उजाला काम्पैक्ट, 29.4.13
  115. सस्ता इलाज सब तक पंहुचे - विविधा फीचर्स, 28 मई-12 जून
  116. कबाड़ से जुगाड़ का प्रयास - देशबंधु, 4.6.13
  117. खुशहाली बने हमारी तरक्की की सूचक - नई दुनिया, 11.6.13
  118. कृषि मजदूरों की बढ़ती संख्या क्या कहती है - हिन्दुस्तान, 12.6.13
  119. भूख कुपोषण व स्वास्थ्य का संकट - स्रोत फीचर्स, जून 2013
  120. जन-स्वास्थ्य सहयोग ने दिखाया ग्रामीण स्वास्थ्य का अनुकरणीय मॉडल, सोपान स्टेप, जून 2013
  121. कहां गए 86 लाख किसान - दैनिक जागरण, 13.6.13
  122. शहर छोड़ डॉक्टरों ने आदिवासी गांवों को नई उम्मीद दी - देशबंधु, 25.6.13
  123. ग्रामीणों के स्वास्थ्य सुधार में पंचायतों की महत्त्वपूर्ण भूमिका - पंचायत राज अपडेट, जून
  124. सर्पदंश - उपचार का अभाव - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 21 जून
  125. मुक्त व्यापार समझौता उचित नहीं - अमर उजाला काम्पैक्ट
  126. श्वेत क्रांति - हकीकत या मिथक - स्रोत फीचर्स
  127. कहीं बेतरतीब विकास का नतीजा तो नहीं है हिमालय की यह भयावह बाढ़ - नवभारत टाईम्स, 21 जून
  128. सर्पदंश की दवा की कमी - विविधा फीचर्स
  129. दूध का देसी बाजार, विदेशी कुचक्र - राष्टीय सहारा, 24 जून
  130. राजनीतिक दल भी सूचना के अधिकार के दायरे में - देशबंधु, 22.6.13
  131. पंचायतों में दलित महिलाओं के साहसिक नेत्तृत्व से बदलाव की बयार - देशबंधु, 20.6.13
  132. शर्मिला इरोम की मांग स्वीकार करें - अमर उजाला काम्पंक्ट
  133. संभव है हिमालय की रक्षा - सर्वोदय प्रेस सर्विस 5.7.13
  134. शहरों के डाक्टर आदिवासी क्षेत्रों में- सर्वोदय प्रेस सर्विस, जून
  135. अब गांववासियों की सुध लेने का समय - हिन्दुस्तान, 26.6.13
  136. कत्ल पर कयासों के खतरे - दैनिक जागरण 29.6.13
  137. बच्चों को बहुत कुछ सिखाता है गांव का यह क्रेच - नवभारत टाईम्स, 1.7.13
  138. फिर जीएम फसलों का जिन्न - अमर उजाला, 2.7.13
  139. उत्तराखंड - निंदनीय है अंधी दौड - हिंदी आऊटलुक, जुलाई
  140. अभी और भी विकट हो सकती है आपदा - दैनिक जागरण, 3.7.13
  141. अंधाधुंध खनन से संकटग्रस्त है ग्रामीण समुदाय - पंचायत राज अपडेट, जुलाई
  142. हिमालयी क्षेत्रों को बचाना जरूरी - राष्ट्रीय सहारा, 4.7.13
  143. महिला स्वास्थ्य में कैसे आए सरकार - नई दुनिया, 5 जुलाई
  144. सुलझ सकते हैं हिमालय के बांध-विवाद - स्टैप सोपान, जुलाई
  145. भू-स्खलन का बढ़ता संकट - स्रोत फीचर्स
  146. इतनी गंभीर क्यों है कुपोषण समस्या - राष्ट्रीय सहारा, 8 जुलाई
  147. उचित भूमि व जल-प्रबंधन से कम हो सकता है बाढ़ व सूखे का संकट - न्यूज लिंक, जुलाई 2013
  148. स्वामी विवेकानंद - भटकाव दूर कर बड़े आदर्शों से जोड़ा - विविधा, 12-28 जुलाई 2013
  149. ईजिप्ट में लोकतंत्र फिर संकटग्रस्त हुआ - नवभारत टाईम्स, 19 जुलाई
  150. ज्योत से ज्योत जलाते चलो, लोकमत समाचार, 2.6.13
  151. मिड डे मील सुधार में अब और देर न हो - देशबंधु, 23.7.13
  152. लोकतंत्र को लूटतंत्र बनने से रोकिए - लोकमत समाचार, 6.4.13
  153. जी.एम. फसलों का सच क्या है - भू-मीत, 16 अप्रैल से 15 मई 2013
  154. कैसे सुधार हो मिड डे मील में - राष्ट्रीय सहारा, 29 जुलाई
  155. बाढ़ के गहराते खतरे के बीच - नई दुनिया, 30 जुलाई
  156. सबकी पंहुच में रहे दवाएं - राजस्थान पत्रिका, 23.7.13
  157. कहीं सूखा तो कहीं बाढ़ क्यों - दैनिक जागरण 7.8.13
  158. पारदर्शिता का भय खोल रहा है पार्टियों की पोल - नवभारत टाइम्स 7.8.13
  159. पंचायते आपदा प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएं - पंचायत राज अपडेट, अगस्त
  160. कुपोषण के नाम पर मुनाफे की दौड़ - विविधा फीचर्स, 12-28 अगस्त 2013
  161. मिड-डे मील में सुधार जरूरी - स्रोत फीचर्स, सह लेखन मधु, अगस्त
  162. स्वामी विवेकानंद का अमर संदेश - न्यूज लाईन
  163. खनन माफिया पर रोक लगाना जरूरी - देशबंधु 9.08.13
  164. सर्पदंश में असहाय लोग - स्रोत फीचर्स
  165. कांट्रेक्ट फार्मिंग के खतरे - दैनिक जागरण 10.8.13
  166. खाद्य सुरक्षा बनाम असुरक्षित किसान - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 16.8.13
  167. फर्जी मुठभेड़ों की अंधेरी दुनिया - देशबंधु, 13.8.13
  168. सूचनाएं छिपाएंगे तो बदनामी ही होगी - राजस्थान पत्रिका, 13.8.13
  169. मिस्र के हालत पर व्यापक सरोकार - राष्ट्रीय सहारा, अगस्त 17
  170. घरेलू कामगारों की व्यथा - दैनिक जागरण, 19 अगस्त
  171. भू-स्खलन को कमतर आपदा मानने के खतरे - हिन्दुस्तान, 19 अगस्त
  172. युवाओं को नई राह दिखाई स्वामी विवेकानंद ने, भटकाव दूर कर बड़े आदर्शों से जोड़ा – दून द्वार, 21.7.13
  173. कुष्ठ रोग केवल कागजों पर दूर हो रहा है - स्रोत फीचर्स, अगस्त
  174. जारी रहे अंधविश्वास विरोधी मुहिम - विविधा, 28 अगस्त
  175. अरब बसंत क्यों कुम्हला गया - राजस्थान पत्रिका, 22.8.13
  176. यूरोपीयन यूनियन में मुक्त व्यापार समझौता - नई दुनिया, 24.8.13
  177. बाढ़ का बदलता रूप - अमर उजाला कॉम्पैक्ट, 29.8.13
  178. महानगर में अकेले - जनसत्ता, 31.8.13
  179. खाली न रहें तालाब, पोखर, झील - देशबंधु 23.8.13
  180. आसाराम प्रकरण व्यापक व पारदर्शी जांच की जरूरत - देशबंधु, 3.9.13
  181. विनाश नहीं विकास का कारण बने बांध - राष्ट्रीय सहारा, 4.9.13
  182. पोषण कार्यक्रमों के सुधार में पंचायतों की महत्वपूर्ण भूमिका, पंचायत राज अपडेट, सितंबर
  183. क्या महाशक्ति कुछ भी कर सकती है? - अमर उजाला, 5 सितंबर
  184. प्रलयकारी बाढ़ से कैसे हो बचाव - नवभारत टाइम्स, 6.9.13
  185. जीवन रक्षक दवाओं से वंचित हैं मरीज - स्रोत फीचर्स, सितंबर
  186. उत्तराखंड में दो पक्षीय चुनौती - न्यूज लिंक, सितम्बर 2013
  187. शौंगटौंग - ऊंचे हिमालय क्षेत्र की विवादग्रस्त बांध परियोजना - सोपान स्टेप, सितम्बर 2013
  188. सीधा रक्तदान ग्रामीण इलाकों को परेशान करता कानून - हिंदुस्तान, 7 सितंबर
  189. आसाराम प्रकरण - आगे की राह क्या हो? - विविधा फीचर्स, 12 सितंबर
  190. जल सत्याग्रह से सामने आई इंदिरा सागर विस्थापितों की गंभीर समस्याएं - देशबंधु, 12.9.13
  191. दुर्घटनाओं से बचाव की बने समग्र नीति - राष्ट्रीय सहारा, 11 सितंबर
  192. बड़े बांध क्या बाढ़ से रक्षा कर पा रहे हैं - स्रोत फीचर्स
  193. गांवों को न सहेजने का खामियाजा - सर्वोदय, 13.9.13
  194. सांप्रदायिक सद्भावना हम सब की जिम्मेदारी - नेशनल दुनिया, 11.9.13
  195. किस राह पर हैं बाबा रामदेव - देशबंधु, 19 सितंबर
  196. किस राह पर जाएगी भाजपा - देशबंधु, 10 सितंबर
  197. यूडीबीटी पर प्रतिबंध से गांवों में कठिन हुआ इलाज - नई दुनिया, 16 सितंबर
  198. स्वास्थ्य - छोटे प्रयास की बड़ी उपलब्धियां - शुक्रवार, 26 सितम्बर 2013
  199. फुलवारी से छोटे बच्चों को उम्मीद - स्रोत फीचर्स
  200. गया नहीं है सीरिया पर हमले का खतरा - नवभारत टाईम्स, 20.9.13
  201. पोर्नाग्राफी और यौन अपराध - दैनिक जागरण, 23.9.13
  202. कुदरती भूकंप से होता मानव निर्मित विनाश - हिन्दुस्तान, 28.9.13
  203. भगत सिंह को कितना जानते हैं - जागरण, 28.9.13
  204. सीरिया में महाविनाश को रोकिए - दूनद्वार, 15.9.13
  205. संकट में सामाजिक जीवन - राजस्थान पत्रिका, 25.9.13
  206. सांप्रदायिक सद्भावना के प्रेरणा स्रोत हैं गांधी - नेशनल दुनिया, अक्टूबर 2
  207. नैतिक मूल्यों पर आधारित अर्थव्यवस्था चाहते थे गांधी जी - देशबंधु, अक्टूबर 2
  208. आज के संदर्भ में ग्राम स्वराज - जनसत्ता, अक्टूबर 2
  209. भक्त भी जानें बाबाओं की सच्चाई - नवभारत टाईम्स, अक्टूबर 3
  210. मिस्र कट्टरवाद से गृह की ओर - देशबंधु
  211. मुजफ्फरनगर से आगे की राह - विविधा, 28 सितम्बर से 12 अक्टूबर
  212. संतुलित भोजन चाहिए केवल अनाज नहीं - स्रोत फीचर्स
  213. परंपरागत बीज बचाने में पंचायती राज संस्थाओं की अहम भूमिका - पंचायत रात अपडेट
  214. उत्तराखंड के आपदा प्रभावित गांवों में मेडिकल टीम ने उत्पन्न की उम्मीद की एक किरण -सोपान स्टैप, अक्टूबर 2013
  215. हादसे अपराध रोकने में हमारी भी जिम्मेदारी - नई दुनिया - 5 अक्टूबर
  216. कब दूर होगी नर्मदा विस्थापितों की समस्याएं - हिंदुस्तान, 5 अक्टूबर
  217. लोकतंत्रा की बेहतरी के लिए - अमर उजाला, 8.10.13
  218. पूरे सरोकार निभाए खाद्य सुरक्षा - राजस्थान पत्रिका, 9.10.13
  219. नदियां निगल रही हैं जमीन - दैनिक जागरण, 10.10.13
  220. कभी बनाएं राष्ट्रीय एकता की सरकार - नवभारत टाईम्स, 15.10.13
  221. परंपरागत बीजों की रक्षा राष्ट्रीय अभियान बने - देशबंधु, 16.10.13
  222. पिछड़े राज्यों को उचित पहचान हो - विविधा फीचर्स, 12-28 अक्टूबर 2013
  223. चक्रवात का रक्षा कवच - स्रोत फीचर्स
  224. खेती को बचाए बगैर कैसी खाद्य सुरक्षा - राष्ट्रीय सहारा, 16.10.13
  225. हमारी कारस्तानियों से घातक बनते चक्रवात - हिन्दुस्तान, 18.10.13
  226. कृषि का पश्चिमी मॉडल - दैनिक जागरण, 18.10.13
  227. शिक्षा - जन भागीदारी से व्यापक प्रयास जरूरी - विविधा फीचर्स, 28 अक्टूबर से 12 नवम्बर
  228. सहेजना ही होगा तटीय क्षेत्रों का पर्यावरण - नई दुनिया, 23.10.13
  229. खेती कर कब्जे की कोशिश - राजस्थान पत्रिका, अक्टूबर 21
  230. महात्मा गांधी के अंतिम दिनों के संदेश - सर्वोदय प्रेस सर्विस 25.10.13
  231.  रेशमा भारती के साथ संयुक्त लेख
  232. ताकि इतनी भयावह न हो सड़क दुर्घटनाएं - हिंदुस्तान, 26.10.13
  233. केवल सस्ता अनाज कापफी नहीं - अमर उजाला, 26.10.13
  234. आपदा में जीवन-रक्षा यादगार उपलब्धि है - देशबंधु, 29.10.13
  235. सरकार की विकेंद्रित नीतियों से ही सुधरेगी धान की खेती - पंचायत राज अपडेट, नवम्बर 2013
  236. छोटे आंदोलनों का बड़ा महत्व - स्टेप सोपान, नवम्बर 2013
  237. उपलब्धि के आगे हैं कई समस्याएं - हिंदी आऊटलुक, नवम्बर 2013
  238. निखिल चक्रवर्ती: लेखन की प्रसंगिकता - सर्वोदय प्रेस सर्विस 1.11.13
  239. उत्सवों को सरोकार से जोड़ने की कला - हिंदुस्तान, 1.11.13
  240. टिकाऊ खेती ने दिखाई राह - जनसत्ता रविवारीय, 3.11.13
  241. अंधभक्ति से बाहर निकलने की राह - देशबंधु, 7.11.13
  242. मध्य-पूर्व न्याय आधारित शांति की चाहत - राष्ट्रीय सहारा, 7.11.13
  243. कृषि विकास का यह कैसा मॉडल - दैनिक जागरण, 7.11.13
  244. गरीबों की अहिंसक हकदारी का उत्पीड़न क्यों? विद्याधाम समिति के अनुभव - विविधा फीचर्स
  245. सबसे बड़ी लड़ाई भूख और कुपोषण के विरुद्ध - नेशनल दुनिया
  246. चक्रवात से जीवन-रक्षा - स्रोत फीचर्स
  247. सार्थक बदलाव की राह - छात्रा विमर्श
  248. विकेंद्रीकरण के साथ कुछ सावधानियां भी जरूरी - विविधा फीचर्स
  249. वायदों की भूलभुलैया और हाशिये पर नीतियां - हिन्दुस्तान, 15.11.13
  250. दिलचस्प रहेगा दिल्ली का चुनाव - देशबंधु, 15.11.13
  251. कैसे मिले जरूरतमंदों को सही दवा - नवभारत टाइम्स, 19.11.13
  252. पंचायती राज व्यवस्था में बड़े बदलाव की जरूरत - हिंदुस्तान, 23.11.13
  253. चुनावों में विकास के मुद्दों की अहमियत - नेशनल दुनिया, 29.11.13
  254. राजस्थान चुनाव में बड़ा मुद्दा है विकास -देशबंधु 29.11.13
  255. रोशनी की तलाश में न उजड़ें घर - नई दुनिया, 29.11.13
  256. ताकि मतदान से वंचित न रहें बेघर नागरिक - हिन्दुस्तान, 30.11.13
  257. दिल्ली के चुनावों का व्यापक महत्त्व - देशबंधु, 3.12.13
  258. ‘आप’ की राह क्या है? - दैनिक जागरण, 3.12.13
  259. कम हो सकता है दुर्घटनाओं का बोझ, बच सकते हैं अमूल्य जीवन - छात्रा विमर्श, दिसम्बर 2013
  260. बढ़ते यौन अपराधों के लिए पोर्नोग्राफी भी है जिम्मेदार - छात्रा विमर्श, दिसम्बर 2013
  261. पंचायती राज से सुधर सकती है गांवों में पस्त न्यायिक व्यवस्था - पंचायत राज अपडेट, दिसम्बर 2013
  262. आंगनवाड़ी में सुधार जरूरी - स्रोत फीचर्स, दिसंबर
  263. राजस्थान - चुनाव मैदान में विकास कार्यों की भूमिका - न्यूज लिंक, दिसंबर 2013
  264. वृद्ध नागरिकों को पेंशन का इंतजार - न्यूज लिंक, दिसंबर, 2013
  265. वृद्धावस्था पेंशन - एक मानवीय उत्तरदायित्व - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 6.12.13
  266. राजस्थान चुनावों में बड़ा मुद्दा है विकास व राहत कार्य - विविधा फीचर्स
  267. चुनाव परिणामों पर विकास कार्यों का असर - स्टैप सोपान, दिसम्बर 2013
  268. पेंशन सुधार से जुड़ी है करोड़ों की उम्मीदें - हिन्दुस्तान, 6.12.13
  269. विदेशी कर्ज का बढ़ता दलदल - राष्ट्रीय सहारा, 7.12.13
  270. डब्लूटीओ और खाद्य सुरक्षा का फैसला - नवभारत टाईम्स, 9.12.13
  271. करोड़ों नए पात्रों तक पहुंच सकती है पेंशन - विविधा फीचर्स, 12.12.13
  272. क्या संदेश है चुनाव परिणाम का - देशबंधु, 10.12.13
  273. कृषि में केंद्रीकरण के खतरे - स्रोत फीचर्स/देशबंधु
  274. फिलहाल टला हमला - दैनिक नवज्योति, 16.9.13
  275. रोजगार से जुड़े पर्यावरण रक्षा - हिंदुस्तान 19 दिसंबर
  276. मजदूरों से छिन रहा है सैंकड़ों करोड़ का लाभ - शुक्रवार, 26 दिसंबर
  277. ग्रामीण विकेंद्रीकरण के लाभ - दैनिक जागरण, 20 दिसंबर
  278. खाद्य सुरक्षा की व्यापक पहचान जरूरी - देशबंधु, 24.12.13
  279. आपदा प्रभावितों पर ध्यान देने का मौसम - हिन्दुस्तान, 24.12.13
  280. विश्व व्यापार में चाहिए बड़ा सुधार - राष्ट्रीय सहारा, 25.12.13
  281. विकास की नई परिभाषा - आई नेक्स्ट दिसंबर
  282. दलित सरपंच कमला ने दिखाई गांवों में हरियाली की राह - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2013
  283. शोभा देवी ने बढ़ाई वार्ड पंच के पद की प्रतिष्ठा - बेयरफुट कालेज समाचार - दिसम्बर 2013
  284. पालूना एनीकट ने दी नई उम्मीद - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2013
  285. दूर-दूर पंहुचे सौर ऊर्जा का उजाला - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2013
  286. विश्व व्यापार संगठन और खाद्य सुरक्षा - देशबंधु 31.12.13
  287. अमर उजाला कॉम्पेक्ट में लेख
  288. कब नियंत्रित होगी दवाओं की कीमत - राष्ट्रीय सहारा, 18 जुलाई 2013