BHARAT DOGRA

An Author and Journalist Writing on Development, Environment, Human Rights and Society

Published Hindi Articles in 2012

  1. नए कानूनों पर बने संतुलित राय - राष्ट्रीय सहारा, 4.1.2012
  2. बेघर लोगों के लिए समग्र नीति बने - नई दुनिया, 5.1.2012
  3. खाद्य सुरक्षा कानून के सामने खड़ी चुनौतियां - हिन्दुस्तान, 9.1.2012
  4. ताकि सार्थक बदलाव के वाहक बनें जनांदोलन - दैनिक भास्कर, 9.1.2012
  5. संकल्प से संवरी जिंदगी - सोपान स्टेप, जनवरी 2012
  6. विजयपुरा बनी एक आदर्श ग्राम पंचायत - पंचायत राज अपडेट, जनवरी 2012
  7. बेयरफुट कालेज ने ग्रामीण प्रतिभाओं को पहचाना - स्रोत फीचर्स, जनवरी 2012
  8. खुदाई खिदमतगार, सर्वोदय प्रेस सर्विस - जनवरी 2012
  9. बेघर लोगों की बेहतरी की राह - दैनिक जागरण
  10. परंपरा और परिवर्तन का एक विचारपूर्ण मिलन - विविधा फीचर्स, 12-28 जनवरी 2012
  11. अन्ना आंदोलन के सात सबक - राष्ट्रीय सहारा, 15.1.2012
  12. करोड़ों दिलों के बादशाह थे बादशाह खान - नवभारत टाइम्स, 21.1.2012
  13. पैकेज नहीं, योजना बनाइए - अमर उजाला, 23.1.2012
  14. सवाल है धरती माता कितनी सुरक्षित हुई? - नई दुनिया, 23.1.2012
  15. चुनावी भ्रष्टाचार से जंग गैर-दलीय ही हो - हिन्दुस्तान 24.1.2012
  16. गांधी का रास्ता ही बचाएगा तबाही से - नई दुनिया, 30.1.2012
  17. धर्म के मर्म को समझते थे बापू - राष्ट्रीय सहारा, 30.1.2012
  18. गांधीजी की सोच से जलवायु बदलाव के समाधान में सहायता - स्रोत फीचर्स, जनवरी 2012
  19. चुनाव हिंसा की निरंतरता - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 27.1.2012
  20. आदिवासी पंचायतो के नियमों से - विविधा फीचर्स, 28.1.2012 से 12.2.2012
  21. महिलाओं ने पंचायतों को सशक्त किया - पंचायत राज अपडेट, फरवरी 2012
  22. विकास की बंद गली - जनसत्ता, 2.2.2012
  23. कल्पों के लिए व्यापक आंदोलन - राष्ट्रीय सहारा, 2.2.2012
  24. दुनिया को बचाने का फैसला कौन लेगा - नवभारत टाईम्स, 2.2.12
  25. लोकतंत्रा की भावी रचना का ब्लूप्रिंट - राष्ट्रीय सहारा, 6.2.2012
  26. कमजोर वर्ग की महिलाओं के प्रशिक्षण व रोजगार को जोड़ने का एक प्रयास - सोपान स्टेप, फरवरी 2012
  27. गांवों के लिए सौर ऊर्जा - दून द्वार, 5.2.2012
  28. वास्तविक खाद्य सुरक्षा कैसे प्राप्त हो - नई दुनिया, 11.2.2012
  29. आदिवासी क्षेत्रों में विशेषाधिकार समाप्त करने की कोशिश - सर्वोदय प्रेस सर्विस 10.2.2012
  30. जल संकट दूर करने के सफल प्रयास - नई दुनिया, 16.2.2012
  31. विज्ञान रक्षक की भूमिका निभाए - स्रोत फीचर्स, फरवरी 2012
  32. सोशल ऑडिट से भ्रष्टाचार पर अंकुश - अमर उजाला, 17.2.2012
  33. मिसाल बनते लैटिन अमेरिकी - दैनिक जागरण, 22.2.2012
  34. ग्रीन हाऊस गैसों में कमी की न्यायसंगत योजना - अमर उजाला कांपैक्ट, फरवरी 2012
  35. बिखरे मजदूरों के लिए इज्जत और उम्मीद - नवभारत टाइम्स, 23.2.12
  36. कूड़ा बीनने वालो को मिली नई संभावनाएं - नई दुनिया, 23.2.2012
  37. अर्थशास्त्रियों की जवाबदेही का समय - राष्ट्रीय सहारा, 23.2.2012
  38. रोजी का नया हुनर - जनसत्ता रविवारीय, 26.2.2012
  39. अमेरिकी आर्थिक संकट से जुड़े व्यापक सवाल - विविधा फीचर्स, 28.2.2012 से 12.3.2012
  40. तटबंधों में फंसे लोग और बांध के खतरे - हिन्दुस्तान, 1.3.2012
  41. गंभीर समस्याओं से त्रस्त है इराक - नई दुनिया, 2.3.2012
  42. सामाजिक अंकेक्षण का बढ़ता महत्त्व - पंचायत राज अपडेट, मार्च 2012
  43. कितने सुरक्षित हैं हमारे बांध - राष्ट्रीय सहारा, 5.3.12
  44. तभी खाद्य सुरक्षा का मजबूत आधार तैयार होगा - दैनिक भास्कर, 6.3.2012
  45. जमीनी संघर्षों से नीति बदलाव तक-मजदूर किसान शक्ति संगठन के 25 वर्ष - दून द्वार, 12.2.2012
  46. अन्ना आंदोलन से आगे सोचने का वक्त - दून द्वार, 19.2.2012
  47. बाबा आधवः संगठन से परिवर्तन के प्रणेता - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 2.3.2012
  48. पंचायत राज में सुधार जरूरी - नई दुनिया, 8.3.2012
  49. धोरों में हरियाली - भू-मीत, जनवरी फरवरी 2012
  50. पानी को बुनियादी हक बनाना सबसे जरूरी - हिन्दुस्तान, 16.3.2012
  51. काले धन की वापसी के लिए क्या करेंगे - नवभारत टाइम्स, 16.3.2012
  52. बांध जनित भूकंपीयता - स्रोत फीचर्स, मार्च
  53. खाद्य सुरक्षा कानून पर विमर्श - स्रोत फीचर्स, मार्च
  54. जारी रहे विदेशी वर्चस्व का विरोध - दून द्वार, 11.3.2012
  55. खेती की उपेक्षा और खाद्य सुरक्षा - जनसत्ता, 21.3.2012
  56. बोझा उठाने वालों ने दिखाई नई राह - नई दुनिया,21.3.2012
  57. नदी जोड़-योजना में सावधानी जरूरी - अमर उजाला, मार्च 2012
  58. शहीद भगत सिंह की जिंदगी का वह आखिरी दिन - नवभारत टाइम्स, 23.3.12
  59. देश ही नहीं दुनिया में जरूरी है कर सुधार - राष्ट्रीय सहारा, 24.3.2012
  60. अपने अधिकार से वंचित क्यों हैं आदिवासी - दैनिक भास्कर, 26.3.2012
  61. रुक सकती है अनेक दुर्घटनाएं - जन लोक संदेश, मार्च
  62. तभी हमारे गांवों का उजाला होगा टिकाऊ - दैनिक हिन्दुस्तान, 27.3.2012
  63. नदी जोड़ योजना का संतुलित मूल्यांकन जरूरी - दैनिक ट्रिब्यून, 29.3.2012
  64. गंगा बचेगी तो हम बचेंगे - अमर उजाला, 29.3.2012
  65. विकेंद्रीकरण से सुधरेगी खाद्य सुरक्षा - नेशनल दुनिया, 3.4.12
  66. आदीवासी कानून से होता अन्याय - सर्वोदय प्रेस सर्विस
  67. बच गई इरावड़ी की सुंदर घाटी - स्रोत फीचर्स
  68. खाद्य सुरक्षा व पंचायतें - पंचायत राज अपडेट
  69. विषमता के विरुद्ध मजबूत होती आवाज - जनसंदेश टाइम्स 14.4.12
  70. दुर्घटनाएं कैसे कम हों - अमर उजाला कांपैक्ट, मार्च
  71. पटरी पर कैसे आए भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन - नवभारत टाइम्स, 6.4.12
  72. ताकि पूरे हिमालय की सुध ली जा सके - हिंदुस्तान, 10.4.12
  73. जन-भागीदारी से ही सुधरेंगे स्लम - राष्ट्रीय सहारा, 12.4.12
  74. हिंसा के बीज बोता छोटा पर्दा - दैनिक जागरण, 13.4.12
  75. सबसे अधिक भ्रष्टाचारी देश कौन है? - दून द्वार, 8.4.12
  76. जी.एम. फसलों से सावधानी जरूरी - जनसंदेश टाइम्स, 11.4.12
  77. सोलर इंजीनियर फैला रहे हैं रोशनी - शुक्रवार, 20 से 26 अप्रैल 2012
  78. पंजाब के ज्वलंत मुद्दों से जुड़ने की जरूरत - दैनिक ट्रिब्यून, 19.4.12
  79. पर्यावरण - आंदोलन का भूमंडलीय परिप्रेक्ष्य - कथन, अप्रैल-जून 2012
  80. जीएम फसल बहस को अंतहीन न बनाएं - सर्वोदय प्रेस सर्विस 27 अप्रैल 2012
  81. बुनियादी बदलाव में विफल आंदोलन - राष्ट्रीय सहारा, 24.4.12
  82. नई राह की तलाश में पंचायती राज - हिंदुस्तान, 25.4.12
  83. बीटी कपास का सबक - जनसत्ता, 25.4.12
  84. छोटे बच्चे व टीवी/विडियो - अमर उजाला काम्पैक्ट, 24.14.12
  85. टीवी की अधिकता बच्चों के लिए खतरनाक - जनसंदेश टाइम्स 27.4.12
  86. अमेरिका से अरब तक आंदोलन - दूनद्वार, 29.4.12
  87. कितना सार्थक ऊर्जा क्षेत्र का नया विकल्प - राष्ट्रीय सहारा, 8.5.12
  88. रोजगार के खाते में विकास का हिस्सा - अमर उजाला, 4.5.12
  89. जल संग्रहण व संरक्षण में जन भागीदारी जरूरी - दैनिक भास्कर, 7.5.12
  90. स्थानीय स्वशासी संस्थाओं के चुनावों को धन-शक्ति से बचाएं - पंचायत राज अपडेट, मई 2012
  91. फूड प्रोसेसिंग का अनुचित विकास - स्रोत फीचर्स, मई
  92. जलवायु बदलाव के कारण पिस रहा है बुंदेलखंड - शुक्रवार, मई 4-10, 2012
  93. टैक्स हेवन: अवैध धन के सपफेदपोश अड्डे - जनसंदेश टाईम्स, 5.5.12
  94. जमीन में घुलता जहर, जनसत्ता, 14.5.12
  95. ज्ञान न विज्ञान, खोद डाले तमाम तालाब, हिन्दुस्तान, 14.5.12
  96. कानपुर - बुलंद हुई शौचालयों की मांग - स्रोत फीचर्स, मई
  97. खून के धब्बों के खिलापफ - सर्वोदय फीचर सर्विस, मई 18, 2012
  98. सभी वृद्धों को पेंशन पर राष्ट्रीय सहमति बने, देशबंधु, 25.5.12
  99. खनन-नदी, खेती और पर्यावरण की तबाही - अमर उजाला, 24 मई
  100. विकसित देशों का संकट - लोकमत समाचार, 28.4.12
  101. मंगल सिंह का योगदान - स्रोत फीचर्स
  102. वृद्ध नागरिकों के लिए न्याय जरूरी - नेशनल दुनिया 25.5.12
  103. कमजोर वर्ग के प्रधानों से गांवों में नई उम्मीद - पंचायत राज अपडेट
  104. बुंदेलखंड में पानी नहीं पैसा बह रहा है - शुक्रवार, 1-7 जून, 2012
  105. कम लागत में बुझी सूखी धरती की प्यास - नवभारत टाईम्स, 4 जून 2012
  106. योजनाओं और पैकेज से दूर नहीं हुआ पिछड़ापन बुंदेलखंड - हिन्दुस्तान, 5.6.12
  107. सेहत और पेंशन होगी कसौटी - राष्ट्रीय सहारा, 6.6.12
  108. पर्यावरण रक्षा से जुड़ा विकास का ग्रीन मॉडल - स्रोत फीचर्स
  109. विश्व में सैन्य खर्च कम करना जरूरी - स्रोत फीचर्स
  110. ग्रामीण स्वास्थ्य सुधारने में पंचायतों से उम्मीद - स्टेप सोपान, जून 2012
  111. बड़ी जल परियोजनाओं के बड़े खतरे - दैनिक जागरण, 8 जून
  112. परंपरागत जल स्रोतों की रक्षा हो - विविधा
  113. मैं कौन हूँ? अपने आप को पहचानना जरूरी - दून द्वार, 3.6.12
  114. स्थानीय स्वशासन चुनावों में भी धन शक्ति हावी - दून द्वार, 3.6.12
  115. मंगल सिंह का मंगल कार्य - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 8.6.12
  116. विवादों के बीच से संतुलित राह निकालें - दैनिक भास्कर, 18.6.12
  117. क्यों चाहिए परमाणु ऊर्जा - दैनिक जागरण, 18.6.12
  118. कमजोर तबकों से कटी-कटी सरकार - हिन्दुस्तान, 19.6.12
  119. साथ-साथ कितनी दूर जाएंगे बाबा और अन्ना - नवभारत टाइम्स, 19.6.12
  120. जवाबों की तलाश में धरती के सवाल - नेशनल दुनिया, 20.6.12
  121. जमीन पक रही है - जनसत्ता, 23.6.12
  122. भोपाल गैस त्रासदी का असर दूसरी पीढ़ी पर भी - नेशनल दुनिया, 25.6.12
  123. सिंचाई में भ्रष्टाचार बुंदेलखंड - अमर उजाला कांपौक्ट, 18 जून
  124. सूखे से निकलती छोटी जल परियोजनाएं - सर्वोदय प्रेस सविस
  125. बढ़ती जा रही है गैस पीड़ितों की स्वास्थ्य समस्याएं - स्रोत फीचर्स
  126. कैसे दूर हो किसानों का संकट - राष्ट्रीय सहारा, 29.6.12
  127. हथियारों के धंधे में है सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार - हिंदुस्तान, 29.6.12
  128. टिकाऊ विकास के लिए नदी की रक्षा से जुड़ी ग्राम सभा
  129. सबसे जरूरतमंद आरक्षण के लाभ से वंचित क्यों - स्टैप सोपान, जुलाई 2012
  130. ओलम्पिक मशाल बनाम भोपाल का बुझता चिराग - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 13 जुलाई 2012
  131. वन गांवों में सौर ऊर्जा से मोबाइल चार्जिंग - स्रोत फीचर्स
  132. हिमालय के गांवों में भी पंहुचा मंगल टरबाइन - स्रोत फीचर्स
  133. कचनौदा बांध परियोजना महंगी क्यों हुई? - स्रोत फीचर्स
  134. शौचालय के रखरखाव का सवाल - दैनिक जागरण, 2.7.2012
  135. क्या क्लासिक फिल्मों का दौर खत्म हो रहा है - देशबंधु 24 जून
  136. लोकतांत्रिक महाराजाओं का खर्च - लोकमत समाचार, 9.6.12
  137. पर्यावरण के लिए विश्व हथियार उद्योग पर अंकुश जरूरी - दैनिक भास्कर, 4.7.12
  138. घातक होगी नकद सब्सिडी - नेशनल दुनिया, 10.7.12
  139. ताकि कल भी मौजूद रहे जल - राष्ट्रीय सहारा, 12.7.12
  140. भ्रष्टाचार-विरोधी उपायों में देरी क्यों - अमर उजाला, 11.7.12
  141. बेयरफुट कालेज के पारदर्शिता मेले - विविधा
  142. ताकि शोषण और अन्याय से बचें प्रवासी मजदूर - भास्कर, 19.7.12
  143. गंगा की रक्षा में गांव वासियों की भागेदारी - शुक्रवार, जुलाई
  144. असुरक्षित समाज और समाजसेवी - राष्ट्रीय सहारा, 24.7.12
  145. कई देशों में कई महीने चले ओलंपिक खेल - नवभारत टाइम्स, 23.7.12
  146. सिर्फ बजट से ही नहीं मिलेगा स्वास्थ्य लाभ - हिन्दुस्तान, 27.7.12
  147.  मध्य वर्ग का सार्थक बदलाव में मूल्यवान योगदान नहीं - राष्ट्रीय सहारा हस्तक्षेप, 28.7.12
  148. प्रवासी मजदूरों के हक का सवाल - दैनिक जागरण, 28.7.12
  149. जन-सत्याग्रह ने फिर उठाया भूमि-सुधारों का उपेक्षित मुद्दा - दून द्वार, 1.7.12
  150. 10-सूत्री कार्यक्रम संभाल सकता है यू.पी.ए. की डूबती नैया - दून द्वार, 8.7.12
  151. भोपाल त्रासदी - विकट है गैस पीड़ितों की स्वास्थ्य समस्याएं - दून द्वार
  152. जैविक और विविध खेती की मिसाल प्रभावती - भू-मीत, जुलाई अगस्त
  153. सीरिया का संकट बढ़ाते पश्चिम देश - अमर उजाला कांपैक्ट, 30.7.12
  154. कब और कैसे सफल होते हैं उपवास आधारित आंदोलन - नवभारत टाइम्स, 6.8.12
  155. सूचना के अधिकार से कौन डरता है - अमर उजाला, 6.8.12
  156. बी.टी. कपास से बाल मजदूरों का जीवन खतरे में - शुक्रवार, 9.8.12
  157. हिमालय क्षेत्रों के लिए बने समग्र नीति - राष्ट्रीय सहारा, 8.8.12
  158. प्रवासी मजदूर और पंचायतें - पंचायत राज अपडेट
  159. नीरजाल गांवों में जल परीक्षण का अनुकरणीय मॉडल - स्रोत फीचर्स
  160. गुजरात के किसानों का बीटी काटन से मोहभंग - स्रोत फीचर्स
  161. नशे से संक्रमित अर्थव्यवस्था - सर्वोदय प्रेस सर्विस
  162. क्षेत्रीय असंतुलन से जुड़ी भाग मजदूरी - स्टैप सोपान, अगस्त
  163. ग्रामीणों की ऊर्जा जरूरतों का सवाल - दैनिक जागरण, 11.8.12
  164. कैसे वापस आए विदेशों से काला धन - नवभारत टाईम्स, 10 अगस्त
  165. ओलंपिक खेलों में सुधार जरूरी - दून द्वार 19.8.12
  166. हजारों बच्चों का गुम होना - देशबन्धु, 24.8.12
  167. आदिवासी कब तक सहेंगे अन्याय - राष्ट्रीय सहारा, 14.8.12
  168. बिजली गिरने को आपदा नहीं मानती सरकार - हिंदुस्तान, 20.8.12
  169. अन्ना का दल और सवालों का दलदल - राष्ट्रीय सहारा, 23.8.12
  170. रासायनिक खाद से जमीन में घुलता जहर - देशबंधु, 14 अगस्त
  171. हिंसा और नफरत पढ़ाती किताबों के मारे बच्चे - हिन्दुस्तान, 24.8.12
  172. सामाजिक आंदोलनों को मजबूत कीजिए - अमर उजाला, 24.8.12
  173. कृषि संकट को समग्रता में देखें -जनसत्ता, 25.8.12
  174. कैसे दूर हो मातृ सुरक्षा की खामियां - नेशनल दुनिया, 26.8.12
  175. भोपाल गैस पीड़ितों को बंधी आस - राष्ट्रीय सहारा, 29.8.12
  176. कई सवाल छोड़ गया ओलंपिक - दैनिक जागरण, 29.8.12
  177. सूडान से सीरिया तक अलगाववाद - देशबंधु, 20.8.12
  178. बाढ़ का कारण है वन-विनाश -शुक्रवार 6 सितम्बर 2012
  179. रेहड़ी पटरी वालों के लिए कानून से आगे - हिन्दुस्तान, 3.9.12
  180. पंचायतों के सशक्तिकरण की राह में नई चुनौतियां - पंचायत राज अपडेट, सितम्बर
  181. असम हिंसा में विदेशी हाथ - दैनिक जागरण, 13.9.12
  182. आदिवासी अधिकारों के प्रति आस्था - स्टैप सोपान सितंबर
  183. कैसे दूर होगी डाक्टरों की कमी? - स्रोत फीचर्स
  184. गुटखे का बढ़ता खतरा - स्रोत फीचर्स
  185. आदिवासियों के हक का सवाल - दैनिक जागरण, 6 सितंबर
  186. भूमि-सुधार का नया एजेंडा - विविधा
  187. ताकि फिर न हो ब्लैक आऊट -नेशनल दुनिया, 7.9.12
  188. भ्रष्टाचार पर बहस के भ्रामक होने का खतरा - राष्ट्रीय सहारा, 7.9.12
  189. वार्ता से हल होंगे नदी विवाद - लोकमत, 9 जुलाई
  190. अब स्वास्थ्य की जिम्मेदारियों से पीछे न हटे सरकार – देशबंधु, 30 अगस्त
  191. उनकी आंखों में नहीं है पानी - अमर उजाला, 11.9.12
  192. गांवों में सबको मिले आवास भूमि - हिंदुस्तान
  193. भ्रष्टाचार पर बहस में संतुलन जरूरी - नेशनल दुनिया, 14.9.12
  194. बारूद के ढेर पर कारखाने - दैनिक जागरण, 17.9.12
  195. वित्तीय संकट - असरदार समाधान दूर क्यों - दून द्वार, 16.9.12
  196. भूमि सुधार - सरकार को अपनी प्राथमिकताएं स्पष्टता से तय करनी होंगी - दैनिक लोकमत, 18.6.12
  197. दो तरपफा निशाने पर आदिवासी - अमर उजाला कॉम्पैक्ट, 24 सितम्बर
  198. रेहड़ी-पटरी वालों को नई उम्मीद देगा कानून -देशबंधु, 15.9.12
  199. विकास ने जिन्हें उजाड़ा उन्हें न्याय कब मिलेगा, नवभारत टाईम्स, 2.10.12
  200. ग्रामीण स्वराज्य से मजबूत होगा अर्थव्यवस्था का आधार - स्टैप-सोपान, अक्टूबर
  201. झारखंड में पेसा एवं आदिवासी स्वशासन की अवहेलना - पंचायत राज अपडेट, अक्टूबर
  202. अपनी जमीन का सवाल - दैनिक जागरण, 5.10.12
  203. और देर न हो भूमि सुधारों में - राष्ट्रीय सहारा, 5.10.12
  204. एयरकंडीशनर का अंधाधुंध तेज प्रसार उचित नहीं, दून द्वार, 23.9.12
  205. तेज हो रही है खाद्य सुरक्षा की बहस - देशबंधु, 3.9.12
  206. विस्थापितों से अन्याय क्यों - लोकमत समाचार, 15.9.12
  207. बुंदेलखंड: गरीबी रेखा से बाहर होता गरीब - सर्वोदय प्रेस सर्विस, अक्टूबर 19, 2012
  208. वर्षा जल समेटने में लगे गांव-गांव - शुक्रवार
  209. विस्थापन का विकास - जनसत्ता, 11.10.12
  210. आर्थिक लोकतंत्रा का रास्ता - नवभारत टाईम्स, 13.10.12
  211. पूरे देश में भूमि-सुधार लागू करने का मौका - हिंदुस्तान, 12.10.12
  212. आदिवासी हितों के लिए अहम कदम - दैनिक जागरण, 20.10.12
  213. बहुत व्यापक है सिंचाई और बांधों का भ्रष्टाचार - नवभारत टाइम्स, 24.10.12
  214. ड्रोन विमानों का बढ़ता खतरा - स्रोत फीचर्स, अक्टूबर
  215. जी.एम बीजों के घातक परीक्षण - दैनिक जागरण, 29.10.12
  216. मुश्किल तो छोटे किसानों की है - अमर उजाला, 27.10.12
  217. हिमालय क्षेत्र में बांधों का विवाद - राष्ट्रीय सहारा, 30.10.12
  218. प्रधानमंत्री की घोषणा से मछुआरों में जगी आस - नेशनल दुनिया, 2.11.12
  219. अंधाधुंध विस्फोटों से होता नुकसान - हिंदुस्तान, 2.11.12
  220. जलवायु बदलाव व कृषि सुधार - अमर उजाला कॉम्पैक्ट, 28 मई
  221. जरूरी है लोक कलाओं की रक्षा - दैनिक जागरण, 5.11.12
  222. प्रतिरोध का कारवां - जनसत्ता, 7.11.12
  223. विषमता में है इस संकट की जड़ें - नेशनल दुनिया, 7.11.12
  224. लोककलाओं के संरक्षण से जुड़े सवाल - हिन्दुस्तान, 12.11.12
  225. जनहित से जुड़े संरक्षण - राष्ट्रीय सहारा, 15.11.12
  226. बिजली संकट से निपटने की राह - दैनिक जागरण, 16.11.12
  227. लोक से दूर होता तंत्र - अमर उजाला, 16.11.12
  228. ताकि इलाज में न लुटे मरीज - अमर उजाला काम्पेक्ट, 8.11.12
  229. कबाड़ का जुगाड़ - रविवारीय जनसत्ता, 18.11.12
  230. वर्षा की अमूल्य बूंदों को सहेजने के प्रयास - बेयरफुट कालेज समाचार, नवम्बर 2012
  231. हमारी परंपरा के खिलापफ है सांप्रदायिकता - बेयरफुट कालेज समाचार, नवम्बर 2012
  232. मध्यकालीन इतिहास के बारे में सांप्रदायिक प्रचार का खोखलापन - बेयरफुट कालेज समाचार, नवम्बर 2012
  233. अमेरिकी नीतियों से बढ़ी मुश्किल - राष्ट्रीय सहारा, 23.11.12
  234. जैव विविधता संरक्षण की सही राह - स्रोत फीचर्स
  235. पुराने कपड़ों और विकास कार्यों का सिलसिला - स्रोत फीचर्स
  236. भूमि-सुधार में पंचायतों और ग्राम सभाओं को प्रमुख भूमिका देना जरूरी - पंचायत राज अपडेट, नवंबर 2012
  237. ऐसे शोधों से तो नहीं बदलेगी कृषि व्यवस्था - हिन्दस्तान 26.11.12
  238. समता व सामाजिक समरसता की दिशा - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 23.11.12
  239. सर्दी का सितम और गरीब की दुश्वारियां - नेशनल दुनिया, 28.11.12
  240. किस तरफ जा रहा है भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन - नवभारत टाइम्स, 29.11.12
  241. गहराते किसानी संकट के बीच कृषि नीति पर बहस - देशबंधु, 27.11.12
  242. रेत खनन से तबाह हो रही हैं नदियां व खेत - शुक्रवार, 6 दिसम्बर 2012
  243. मानवाधिकारों को उच्च प्राथमिकता मिले - सर्वोदय प्रेस सर्विस, 30.11.12
  244. इसराइल की जिद का मतलब - अमर उजाला, 7.12.12
  245. दोस्ती और दुश्मनी का नाटक कब तक - राष्ट्रीय सहारा, 7.12.12
  246. श्वेत क्रांति की कमजोर बुनियाद - नेशनल दुनिया, 7.12.12
  247. सुधारों की बाट जोहते बुनकर - दैनिक जागरण, 7.12.12
  248. संघर्ष संवैधानिक मूल्यों को जीने का - राष्ट्रीय सहारा, 8.12.12
  249. मंदिरों के सोने से समाज कल्याण बाबा आधव के विचार - राष्ट्रीय सहारा, 8.12.12
  250. मुनाफे को शिक्षा क्षेत्र से बाहर रखें प्रवीण झा के विचार - राष्ट्रीय सहारा, 8.12.12
  251. गांवों से उजाड़े जो रहे लोग पी. वी. राजगोपाल के विचार - राष्ट्रीय सहारा 8.12.12
  252. निर्धन वर्ग का शहरों में अमूल्य योगदान है - सोपान स्टेप, दिसम्बर 2012
  253. सूचना मिलने में देरी से निराश नागरिक -देशबंधु, 3.12.12
  254. पहले ही कदम में लड़खड़ा गई डेमोक्रेसी - नवभारत टाईम्स, 11.12.12
  255. फन हॉलिडे में टेंशन - लोकमत समाचार, 4.11.12
  256. ऐसे आर्थिक साम्राज्य की विडंबनाएं - नेशनल दुनिया, 15.12.12
  257. सर्वशिक्षा में मीडिया की भागीदारी - राष्ट्रीय सहारा, 18.12.12
  258. जारी है लोक कलाकारों के प्रोत्साहन के प्रयास - न्यूज लिंक, दिसंबर 2012
  259. साम्प्रदायिक तत्व कर रहे हैं स्वामी विवेकानंद के नाम का दुरुपयोग - न्यूज लिंक, दिसम्बर 2012
  260. आज भी प्रासंगिक है गुट-निरपेक्ष आंदोलन, न्यूज लिंक, दिसंबर 2012
  261. भूमिहीनों के हक का सवाल - दैनिक जागरण - 20.12.12
  262. स्कूल की उचित तैयारी व 17 करोड़ बच्चे - नेशनल दुनिया, 21.12.12
  263. ऊर्जा नीति का वैज्ञानिक आधार क्या हो? - देशबंधु, 14.12.12
  264. पश्चिम एशिया और पश्चिम - जनसत्ता, 26.12.12
  265. जैव विविधता और पंचायतें - पंचायत राज अपडेट, दिसम्बर 2012
  266. रात्रि शालाओं ने निर्धन बच्चों को दी शिक्षा की उम्मीद - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  267. बाल संसद - प्राथमिक शिक्षा से ही शुरू हुआ लोकतंत्र का प्रशिक्षण - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  268. झारखंड में पहुंचेगा सौर ऊर्जा का प्रशिक्षण - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  269. जरूरी है शिक्षा का नैतिक आधार - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  270. नशे में लुट रहा गांवों का पैसा व स्वास्थ्य - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  271. जन-संसद से उठी संविधान की रक्षा की आवाज - बेयरफुट कालेज समाचार, दिसम्बर 2012
  272. सब खेतों को पानी देने के लिए बदलनी होगी नीति - हिंदुस्तान, दिसम्बर 24
  273. कृषि भूमि पर हो इनका भी हक - राष्ट्रीय सहारा, 29 दिसंबर
  274. सहकारिता आंदोलन - राजस्थान पत्रिका - दिसम्बर